अपने पति की गांड मरवाई अपने...

मेरा नाम मंजू है। मेरी शादी के बाद चल रही थी। मुझे कई लड़के देखने के लिए आए पर मैंने सब को रिजेक्ट कर दिया क्योंकि मुझे वह लड़के पसंद नहीं आ रहे थे। किसी की उम्र ज्यादा थी तो किसी की हाइट कम थी क्योंकि मैं बहुत ही सुंदर और लंबी हूं। तो मुझे भी कोई ऐसा ही चाहिए था। जो देखने में अच्छा हो और मुझे समझ सके। लेकिन मुझे ऐसा कोई लड़का अभी तक मेरे घर वालों ने नहीं दिखाया था। जिस वजह से मैं उन्हें मना करती थी की रहने दो मुझे अभी शादी नहीं करनी है। लेकिन वह अपनी जिद पर अड़े हुए थे कि नहीं अब तुम्हें शादी करनी ही पड़ेगी। अब बहुत साल हो चुके हैं। तुम्हें अकेले रहते हुए और अब हम बहाना नहीं सुनने वाले हैं। मैं भी उनकी बात के आगे कुछ बोल नहीं सकती थी क्योंकि उन्होंने ही मुझे पाल पोस कर बड़ा किया था। इसलिए मैं उनकी किसी भी बात को इनकार नहीं कर सकती थी। मैं यही सोचती थी कि चलो कोई नहीं अब तो शादी करनी ही है।

मेरा एक बॉयफ्रेंड भी था जिससे मैं मिलती थी। वह मुझे बहुत अच्छे से चोदता था। मुझे बहुत दिन हो चुके थे चुदे हुए। मैं अपने बॉयफ्रेंड के घर चली गई और उसे कहा आज तुम मेरी इच्छा पूरी कर दो। वह मुझे कभी भी मना नहीं करता था। जब भी मैं उसे कहती थी तो वह तुरंत तैयार हो जाता था और कहता था क्यों नहीं मैं तुम्हारी इच्छा भी पूरी कर देता हूं। उसने मुझे बिस्तर में लेटा दिया। मेरी चूत को चाटने लगा। उसे मेरी चूत बहुत पसंद थी। वह मेरी चूत को बहुत ही अच्छे से चाटता था। वह मुझे एक बात जरूर कहता था कि मुझे इसमें एक बाल भी नहीं चाहिए। तुम हमेशा चूत क्लीन कर के रखा करो। मैं जब भी उसे मिलती थी तो अपनी चूत के बाल साफ करती थी। उसने मेरी गांड चाटना शुरू किया और मुझे कहने लगा कि तुम्हारी गांड मुझे बहुत पसंद है। उसके बाद उसने अपने लंड को मेरे मुंह में डाल दिया। मैं उसके लंड को बहुत अच्छे से चूसती थी क्योंकि मुझे लंड चूसना बहुत अच्छा लगता है। ऐसे करते हुए उसने मेरे चूचो को भी चाटना शुरु किया और मेरे निप्पल को अपने मुंह में लेते हुए बहुत देर तक मेरे चूचो को चूसता रहा। जिससे मुझे काफी मजा आ रहा था और वह ऐसे ही करता जा रहा था। हम दोनो से बर्दाश्त नहीं हो रहा था और उसने भी जल्दी से अपने लंड को मेरी गोरी चूत मे डाल दिया। जैसे ही उसने मेरी चूत मे डाला। मुझे बहुत अच्छा लग रहा था और वह बड़ी तेजी से धक्के मारे जा रहा था। मेरे मुंह से चीख निकल रही थी और मैंने उसके हाथों को पकड़ लिया। थोड़ी देर बाद उसने मेरे दोनों हाथों को अपने हाथों के नीचे दबा लिया। जिससे मैं हिल भी नहीं पा रही थी और वहां मेरे ऊपर चढ़ा हुआ था। धक्के मारे जा रहा था। जैसे ही उसका वीर्य पतन हुआ। तो उसने जल्दी से मेरी योनि में अपना वीर्य डाल दिया। उसके बाद हम दोनों काफी देर तक बात करते रहे और वह मुझे यह पूछ रहा था। तुम्हारी शादी की बात चल रही है तो अभी तक तुम्हें कोई लड़का पसंद आया। मैंने उससे कहा कि नहीं अभी तक तो मुझे कोई लड़का पसंद आया नहीं है। मेरे घरवाले देख रहे हैं। यदि कोई पसंद आ जाएगा तो मैं तुम्हें जरूर बताऊंगी। यह कहते हुए मैं वहां से अपने घर के लिए चली गई।

जब मैं अपने घर पहुंची तो मेरी मां ने मुझे कहा कि तुम्हारे लिए हमने एक लड़का देखा है। जो की बहुत ही अच्छी कंपनी में जॉब करता है और वह लोग घर से भी बहुत ज्यादा संपन्न है। वह लोग कल तुम्हें देखने आएंगे तो कल तुम तैयार हो जाना। मैंने अपनी मां से कहा ठीक है, मैं कल तैयार हो जाऊंगी। अगले दिन वह लोग मुझे देखने के लिए हमारे घर पर आए। मुझे वह लड़का काफी पसंद आया और मैंने देखा कि वह बात करने में भी काफी सभ्य और अच्छा है। वह कफि व्यवहारिक लड़का भी लग रहा था। हमारे घर वालों ने कहा कि आप दोनों अकेले में बात कर लीजिए।

हम दोनों अकेले में बैठे हुए थे तो मैंने उससे उसके बारे में पूछा तो वह कहने लगा कि मुझे मेरे घर वालों से बहुत ही ज्यादा प्यार है। इस वजह से मैं शादी करने के लिए राजी हुआ हूं नहीं तो मैं भी शादी के मूड में नहीं था। मैंने भी उसे अपने बारे में बताया उसके बाद हमारी बातें हुई। वह मुझे काफी व्यवहारिक लगा और अच्छा भी लग रहा था। मैंने शादी के लिए हां कर दी। अब हमारी शादी हो चुकी थी। तो मैंने अपने बॉयफ्रेंड को भी मेरी शादी में इनवाइट किया था। वह भी मेरी शादी में आया था।

मेरी पहली रात थी तो मेरे लिए बिस्तर को फूल से सजा रखा था क्योंकि मेरे पति मुझे चोदने वाले थे। मैं बिस्तर पर बैठी हुई थी और वह अंदर आए। उन्होंने दरवाजा बंद किया वह मुझसे बातें करने लगे और कहने लगे कि तुम अनकंफर्टेबल तो नहीं हो। मैंने उन्हें कहा नहीं मैं अनकंफर्टेबल नहीं हूं। उन्होंने उस दिन मेरे साथ कुछ भी नहीं किया और ऐसे ही सो गए। ऐसे कई दिनों तक चलता रहा। लेकिन उन्होंने मुझे छुआ तक नहीं अब मुझे कुछ तो शक होने लगा था। कुछ तो गलत है पहले कुछ दिन तो मुझे लगा कि चलो ऐसा हो सकता है। वह यह समझते हो कि मुझे उनके घर में एडजस्ट करने में थोड़ा टाइम लगेगा। उसके बाद हम दोनों सेक्स संबंध बनाएंगे। लेकिन अभी तक कुछ ऐसा हमारे बीच में हुआ नहीं था।

एक दिन मैंने देखा कि मेरे पति किसी लड़के के साथ हमारे बेडरूम में कुछ गलत हरकत कर रहे हैं। मैंने जैसे ही दरवाजे से जाकर देखा तो उस लड़के ने उनका लंड अपने मुंह में लिया हुआ था। थोड़े समय बाद मेरे पति ने भी उसका लंड अपने मुंह में लेने लगे। मैं यह देखकर बहुत ही हैरान रह गई। अब मुझे समझ आ गया था कि यह एक गे हैं। मुझे ऐसा लगा कि मेरी जिंदगी अब खराब हो चुकी है। रात को मैंने उनसे जब इस बारे में बात की तो पहले बात को टालते रहे। उसके बाद उन्होंने मुझे बताया कि मैं एक गे हूं। मैं यह शादी नहीं करना चाहता था लेकिन मेरे पास भी कोई रास्ता नहीं था। इसी वजह से मैंने तुम्हारे साथ शादी की क्योंकि तुम मुझे अच्छी लगी और मुझे लगा कि तुम समझ लोगी, मेरे पति मुझे कहने लगे।

मैंने उन्हें कहा कि अब आप क्या चाहते हो। उन्होंने मुझे कहा कि देखो मैं सेक्स संबंध तो बना नहीं पाऊंगा तुम्हारे साथ तुम्हें अगर किसी और के साथ अपने संबंध रखना है तो तुम कर सकती हो। मुझे इसमें कोई आपत्ति नहीं है। मैंने भी उन्हें अपने बॉयफ्रेंड के बारे में बताया और उन्होंने मुझे कहा कि ठीक है। मुझे इसमें कोई आपत्ति नहीं है। तुम उससे चुदती रहो। उन्होंने कहा तुम अपने बॉयफ्रेंड के पास जाती थी और अपनी प्यास बुझाती थी।

एक दिन उन्होंने मुझसे अपनी इच्छा रखी की मुझे अपनी गांड मरवानी है। मेरा एक दोस्त था जो कि एक गे है। मैंने उसे अपने घर पर बुलाया और मैं वही घर पर बैठी रही। उसने मेरे पति के कपड़े उतारे और मेरे पति ने उसके मोटे लंड को अपने मुंह में ले रखा था। जिसे कि वह बहुत ही अच्छे से सकिंग कर रहे थे। ऐसा तो शायद मैं भी नहीं करती हूं। ऐसा करते करते वह अब बहुत उत्तेजित हो गए थे। मेरे उस दोस्त ने अपने लंड पर तेल लगाया और मेरे पति की गांड में डाल दिया। जैसे ही मेरे मित्र ने उनकी गांड में डाला तो वह बहुत चिल्लाने लगे और उन्हें बहुत अच्छा लग रहा था। मेरे मित्र ने बहुत जोर से धक्का मारना शुरू किया। वह बड़ी ही तेजी से धक्का मार रहा था और मेरे पति बहुत ही उत्तेजित हो रहे थे। मैं यह सब अपनी आंखों से देख रही थी क्योंकि यह दृश्य मेरे लिए पहला अनुभव था और मैं जिंदगी भर इस दृश्य को कभी भूल नहीं पाऊंगी। मेरे दोस्त ने उनकी गांड को खोल कर रख दिया था। वह उन्हें बहुत थी गंदे तरीके से पेल रहा था। वह इतनी तेजी से धक्के मार रहा था कि मेरे पति अपनी गांड को उसकी तरफ कर रहे थे और उन्हें बहुत ही मजा आ रहा था। थोड़े समय बाद उसका गिरने वाला था तो उसने मेरे पति की गांड में ही माल डाल दिया। जैसे ही उसने अपना मोटा लंड बाहर निकाला तो मेरे पति की गांड से उसका पूरा वीर्य टपक रहा था।

अब उसने भी मेरे पति के लंड को चूसना शुरू किया। जैसे-जैसे वह चूसता जाता। मेरे पति को मजा आता। उसने भी मेरे पति के वीर्य को अपने मुंह में ले लिया और अंदर ही निगल लिया। इस तरीके से मैंने अपने पति की इच्छा को पूरा किया और मुझे अपनी इच्छा पूरी करने के लिए अपने बॉयफ्रेंड के पास जाना पड़ता है। हम दोनों ऐसे ही अपनी जिंदगी गुजार रहे हैं।


(0) (0)
637
: Monday, September 3rd, 2018
:
:        

Your Vote

×