चचेरे भाई ने मेरी गांड अपने...

sexy story मेरा नाम लवलीन है। मैं दिल्ली की रहने वाली हूँ। आज मैं आपको अपनी कहानी indiansexkahani.com सूना रही। आशा है की ये आपको बहुत पसंद आएगी।
उस दिन मेरे चाचा का लड़का किशोर मेरे घर आया था। मेरा उससे अफेयर 1 साल से चल रहा था। धीरे धीरे मैं उससे प्यार करने लगी। अक्सर किशोर मुझे सीने से लगा लेता था। मुझे बहुत अच्छा लगता था। वो भी मुझसे बहुत प्यार करता था। वो मुझे बाहों में भरकर किस कर रहा था। मेरे गुलाब जैसे होठो को चूस लेता था। किशोर की सांसो की महक बहुत सुगन्धित और खुशबुदार थी। वो मुझे अभी तक 3 बार चोद चूका था। मुझे भी बड़ा मजा आ गया था।
कुछ दिनों बाद मेरे B.com के पेपर्स शुरू होने वाले थे। मेरी मम्मी ने किशोर से कहा की वो मुझे शाम को घर पर आकर पढ़ा दिया करे। किशोर पढने में बहुत तेज था और M.com कर चुका था। अब तो CA की तैयारी कर रहा था। वो चार्टर्ड अकाउंटेंट बनकर बहुत सारा पैसा कमाना चाहता था। फिर वो शाम को मेरे घर आकर पढ़ाने लगा। धीरे धीरे हम दोनों फिर से प्यार मुहब्बत करने लगे। वो मुझे मेरे कमरे में पढ़ता था। कभी कभी वो मेरे पैर और जांघो को सहलाने लग जाता था। फिर 2 दिन बाद मेरे चचेरे भाई किशोर से मुझे पढ़ाते पढ़ाते ही चोद लिया। दोस्तों धीरे धीरे मेरी सेक्स की इक्षा बढ़ने लगी। अब हम दोनों पढ़ते कम इश्क जादा लड़ाते। किशोर मेरे टॉप के उपर से मेरे दूध हाथ से दबाता और मसलता। मुझे बड़ा मजा आता। अगले दिन किशोर से मुझे 2 घंटे लगातार पढ़ा दिया। हम दोनों ही थक गये थे। अब थोडा मनोरंजन करना चाहते थे।
29776f0b65d20feaa9b28d3a4f4eac21--bedroom-images-bedrooms
“लवलीन! कभी तुमने गांड मरवाई है??” किशोर बोला
“धत्त!! शरम नही आती ऐसी गंदी बात करते हुए। कोई लड़की अपनी गांड मरवाती है क्या???” मैंने कहा
“सच में जान। अब जमाना बहुत बदल गया है। अब वो जमाना चला गया तक लौंडिया अपने आशिकों से सिर्फ अपनी चूत चुदवाती थी। अब तो हर लड़की अपनी गांड मरवाने लगी है” किशोर बोला
“मैं नही मानती। तुम जरुर झूठ बोल रहे हो” मैंने कहा
“सच में जान” किशोर बोला
उसने अपना स्मार्ट फोन निकाला और ब्लू फिल्म लगा दी। फिल्म में कई हिन्दुस्तानी लड़कियाँ अपने बॉयफ्रेंड्स से अपनी गांड चुदवा रही थी। सब ….ऊँ—ऊँ…ऊँ सी सी सी सी… हा हा हा.. ओ हो हो….बोलकर गर्म आवाजे निकाल रही थी। दोस्तों धीरे धीरे मेरी इस तरह के वीडियो देखने की आदत हो गयी। अब मैं जब भी इन्टरनेट खोलती तो गांड मराने वाले वीडियोस देखती। अब मुझे ये अच्छा लगने लगा। मैं भी अपने चचेरे भाई किशोर से गांड मरवाना चाहती थी। उसका रसीला लंड अपनी गांड में लेना चाहती थी। अगले दिन किशोर मुझे पढ़ाने शाम को 4 बजे आ गया था।
“बोलो बहन!!” किशोर हसंकर बोला
उसका इशारा गांड की तरफ था।
“मैंने वो वीडियो देखा था। “ठीक है मैं तुमसे अपनी गांड चुदवाउंगी। आज ही मेरी गांड चोदो भाई” मैंने कहा। ये कहानी आप इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
“कहीं चाचा चाची न देख ले” किशोर डरकर बोला
“उसकी परवाह मत करो। मम्मी पापा के साथ दांत के डॉक्टर के यहाँ गयी है। 2 -3 घंटे बाद ही आएंगी” मैंने कहा
दोस्तों उसके बाद हम किस करने लगी। हम दोनों सोफे पर बैठ गये। मेरा चचेरा भाई किशोर मुझे किस करने लगा। धीरे धीरे वो मेरे बूब्स हाथ से निचोड़ने लगा। धीरे धीरे हम दोनों नंगे हो गये। किशोर मेरी चूत कई बार चोद चुका था। पर आज तो मेरा गांड मरवाने का मन था। किशोर ने अपने स्मार्ट फोन में एक विडियो लगा दिया और टेबल पर खड़ा कर दिया। उसे देख देखकर हम दोनों गर्म हो गये। धीरे धीरे मैंने और किशोर ने अपने कपड़े उतार दिए। अब हम दोनों नंगे थे।

“आ जा मेरी सेक्सी बहन!! आज मेरी गांड चोदता हूँ” किशोर बोला
मैं पूरी तरह से नंगी होकर डांस करने लगी। मैं पूरी तरह से नंगी होकर लॉबी में डांस कर रही थी। अपनी कमर और कुल्हे मैं मटका रही थी। मेरी चूचियां बड़ी बड़ी 36” की थी। सफ़ेद और बिलकुल चिकनी थी। जब जब मैं मटक रही थी मेरी ठोस और कसी चूचियां भी हिल रही थी। किशोर मेरी खूबसूरती का दीवाना हो गया था। मेरी हिलती और बाल की तरह उछलती चूचियों को देखकर मेरा चचेरा भाई मंत्रमुग्द हो गया था। मैंने अपने बाल खोल लिए थे। मैं नंगी होकर उसके सामने नाच रही थी। फिर मैं थक गयी और किशोर के पास चली आई। मैं हांफ रही थी। मेरे भाई किशोर से मुझे बाहों में भर लिया और किस करने लगा।
वो मेरे गालो पर पप्पी दे रहा था। आज मैं अपने चचेरे भाई से गांड मरवाने जा रही थी। किशोर मेरी जिस्म को सहला रहा था। मैं उसकी गोद में बैठी थी। मेरी नंगी पीठ पर किशोर हाथ घुमा रहा था। नीचे से उपर वो सहला रहा था। मेरे गाल, चेहरे, मुंह, गले, मेरे सेक्सी कन्धो पर वो किस कर रहा था। वो मेरे कन्धो पर दांत गड़ा रहा था। काट लेता रहा। मैं भी ऐसा कर रही थी। किशोर की सांसो को मैंने खूब पीया। उसे अपना दिलबर समझ कर मैं उसे किस गया। अब वो मेरी कमर को सहला रहा था। धीरे धीरे किशोर ने मेरी कसी कसी गोल चूचियों को हाथ से दबाना शुरू कर दिया।
“बहन!! तुम तो आज बिलकुल सनी लिओन जैसी दिख रही हो” किशोर बोला
“अच्छा!!” मैंने हंसकर कहा
किशोर ने मेरी दाई चूची को हाथ से पकड़ लिया और जोर से दबा दिया। मैं “उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ… सी सी सी सी….. ऊँ—ऊँ…ऊँ….” बोलकर चिल्ला पड़ी। मेरा तो जैसे सारा रस की निकल गया। किशोर ने मेरी दाई चूची को छोड़ा नही था। अब भी कसके पकड़े हुए था। मेरी निपल्स गुलाबी रंग की थी जो टनटना कर खड़ी हो गयी थी। किशोर अब अपनी जीभ को बार बार मेरी निपल पर टकरा रहा था। मैं कसक रही थी। कराह रही थी। उसने मुझसे फुल मजा ले लिया। कितनी देर तक वो मेरी निपल को जीभ से टकराता रहा। मेरी चूत अब सेक्स के नशे के कारण बहने लगी थी। फिर मेरे सेक्सी चचेरे भाई ने मुझे बहुत तड़पाने के बाद मेरी दाई चूची को मुंह में भर लिया और जल्दी जल्दी चूसने लगा। मैं पागल हो रही थी। किशोर बहनचोद मेरी चूची को दबा दबाकर चूस रहा था।
मेरी तो जान ही निकली जा रही थी। दोस्तों किशोर से 20 मिनट तक मेरी रसीली चूचियों को दबा दबाकर चूसा। मेरी चूत से अब ताजा मक्खन बहने लगा था। फिर सुधीर ने मुझे सोफे पर ही घोड़ी बना दिया। मेरी गांड के छेद को उसने चूमना चाटना शुरू कर दिया। धीरे धीरे मैं मस्त होने लगी। फिर किशोर ने मेरी गांड पर थोडा तेल लगा दिया और ऊँगली करने लगा। मैं “….उंह उंह उंह हूँ.. हूँ… हूँ..हमममम अहह्ह्ह्हह..अई…अई…अई…..” की आवाजे निकालने लगी। ये कहानी आप इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
दोस्तों आज पहली बार कोई मेरी गांड में ऊँगली कर रहा था। मेरी गांड बहुत कसी थी। क्यूंकि आजतक मैंने किसी लड़के से गांड नही चुदवाई थी। किशोर तो जैसे पागल हो रहा था। वो जल्दी जल्दी अपनी बीच वाली ऊँगली को गांड में अंदर बाहर कर रहा था। मैं सिसकियाँ ले रही थी। मुझे दर्द भी बहुत हो रहा था।
“भाई दर्द हो रहा है….प्लीस धीरे धीरे करो” मैंने कहा
“बहन!! शुरू शुरू में दर्द होता है सब लड़कियों को। बाद में उनको मजा आता है। थोडा सह लो” किशोर बोला
मैं चुप हो गयी। मैं सोफे पर ही कुतिया बन गयी थी। अपना पिछवाड़ा मैं किसी घोड़ी की तरह उठा रखा था। किशोर जल्दी जल्दी ऊँगली कर रहा था और किनारे से मेरी गांड चाट रहा था। फिर उसने हाथ में ढेर सारा तेल ले लिया और अपने 10” के लौड़े पर लगा लिया और चारो तरफ से मल लिया। अब उसका लंड किसी तलवार की तरह दिख रहा था। आज किशोर अपनी तलवार से मेरी गांड का कद्दू काटने जा रहा था। दोस्तों मेरे दोनों पुट्ठे इतने गोल मटोल और उभरे हुए थे की किसी कद्दू की तरह दिख रहे थे। फिर किशोर ने धीरे धीरे मेरी गांड के बेहद कसे छेद में अपना लंड डालना शुरू कर दिया। मैं “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा..” करके मरने लगी। आखिर वो उसका 10” लंड मेरी गांड में पूरा अंदर तक घुस गया। मैंने रोने लगी।

मुझे बहुत जादा दर्द हो रहा था। पर दोस्तों लंड पर ढेर सारा तेल लगा होने के कारण लंड फिसलने लगा था। धीरे धीरे किशोर ने अपनी पिक्चर हिट कर दी। मेरी गांड वो मारने लगा। धीरे धीरे उसे सफलता मिल गयी थी। अब उसका लंड मेरी गांड के बेहद कसे छेद में सरक रहा था। किशोर अपनी कमर हिला हिलाकर मेरी गांड चोद रहा था। आज फर्स्ट टाइम मैं ऐस फकिंग करवा रही थी। दर्द हो रहा था। मेरी आँखों के सामने अँधेरा छा रहा था। मजा भी साथ में आ रहा था। ये कहना मुस्किल था की मजा जादा आ रहा है की दर्द जादा हो रहा है। 15 मिनट की चुदाई के बाद मेरी गांड रवां हो गयी और उसका छेद अच्छी तरह से खुल गया। अब तो किशोर जल्दी जल्दी मुझे पेलने लगा। मैं “अई…..अई….अई… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…” की कामुक आवाजे निकाल रही थी।
जन्नत जैसा मजा मुझे मिल रहा था। दोस्तों अपने सिर को मैंने सोफे पर रखा हुआ था। मेरे घुटने मुड़े हुए थे। पिछवाडा उपर उठा हुआ था। मेरा चचेरा भाई किशोर मेरी गांड का कद्दू काट रहा था। मैं मर रही थी। मजा भी फुल आ रहा था। उसने करीब 50 मिनट मेरी गांड मारी। जब उसने अपना लंड बाहर निकाला तो मेरी गांड का छेद 2” चौड़ा हो गया था। किशोर ने अपना माल मेरी गांड में ही छोड़ दिया था। अब मैं बहुत खुश थी।


(0) Likes (0) Dislikes
834 views
Added: Saturday, September 16th, 2017
Added By:
Vote This:        

Your Vote

×
Comments
Search Site
Share With Us
Random Video
Facebook
Featured Video Categories
  • No categories
Our Pages