Sponsors
loading...
चूत आई है ज़मीन पर- 2

हैल्लो फ्रेंड्स, कैसे हैं आप सभी ? मैं राजीव आप सभी के सामने फिर से हाजिर हूँ | मैंने आप लोगो को अपनी कहानी के पिछले भाग में बताया कि भाभी ने मेरे साथ क्या किया ? मैं आज आप लोगो के सामने उस अधूरी कहानी को पूरा करने के लिए हाजिर हुआ हूँ | जो लोग नए हैं या जो मेरी कहानी के ये वाले भाग को पढ़ रहे हैं | मैं उनसे निवेदन करता हूँ कि कृपया वो मेरी कहानी पूरी पढ़े और आनंद ले | अगर आप अधूरी कहानी पढेंगे तो आप को कुछ भी समझ में नहीं आयगा | अब मैं ज्यादा समय ना लेते हुए अपनी कहानी के अधूरे भाग को पूरा करना शुरू करता हूँ |

मैं भाभी को किस करने लगा और उनके दूध को मसलने लगा | तो भाभी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपने एक हाँथ से मेरे लंड को पकड के हिलाने लगी | फिर मैं भाभी के दूध के निप्पलस को किस करते हुए उनके दूध को अपने मुंह में ले लिया | अब मैं भाभी के दोनों दूध को जोर जोर से मसलते हुए चूसने लगा और भाभी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारिया लेने लगी | मैं उसके दूध को चूसते चूसते निप्पलस को भी अच्छे तरह से चाट रहा था और वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मेरे सिर के बालो को सहलाने लगी |

उसके बाद मैंने उसकी पेंटी को उतार दिया और उसके चूत के आस पास हाँथ फेरने लगा | उसकी चिकनी चूत देख कर तो मेरा मन ही फिसला जा रहा था | फिर मैंने उसकी चूत में एक ऊँगली डाल दी और अन्दर बाहर करने लगा | वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारिया लेने लगी | फिर मैंने उसकी चूत को अपने ऊँगली से खोला और अपनी जीभ उसकी चूत पर लगा के चाटने लगा | वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मचलने लगी | मैं उसकी चूत को चाटते हुए उसकी चूत को ऊँगली से भी चोद रहा था और वो लगातार आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करने लगी | उसने मुझसे कहा कि बस भी करो अब मुझसे रहा नही जा रहा है | अब मुझे तुम चोद दो यार कितना तडपाओगे | मैंने कहा जान इतने जल्दी चुदाई करने में मजा नही आता है | थोडा तो मुझे टाइम दो खुद को साबित करने का कि मैं कितना अच्छा चुदाई कर सकता हूँ | उसने कहा कि यार प्लीज अब चोद भी दो | मैंने कहा ठीक है |

अब मैं उसकी चूत पर अपना लंड टिकाया और धीरे धीरे घुसेड़ने लगा | जैसे ही मेरे लंड का सुपाडा उसकी चूत के अन्दर गया उसकी चीख नीलने लगी | उसने मुझसे कहा कि यार बहुत दर्द हो रहा है प्लीज निकालो इसे | मैंने कहा कि अब मैं अपना लुंड नहीं निकालूँगा | अब मैं उसे घुसेड़ते ही जाने लगा और उसके मुंह से चीख निल्लते ही जा रही थी | फिर जब मेरा लंड उसकी चूत में घुस गया तो मैंने धीरे धीरे उसकी चुदाई करने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करने लगी | कुछ देर धीरे धीरे चुदाई करने के बाद उसे भी मजा आने लगा था तो वो भी अपनी गांड उठा उठा कर चुदाने लगी और आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करने लगी | फिर मैंने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दिया और जोर जोर से चोदने लगा | वो भी मस्त हो कर मुझसे चुदवाने लगी और आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करने लगी | करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद मैंने उसकी चूत के ऊपर अपना माल झड़ा दिया | और थक कर उसके बगल में ही लेट गया |

उसने मुझसे कहा कि शादी के बाद आज पहली बार मुझे चुदाई का आनंद मिला | तुमाहरा बहुत शुक्रिया आई लव यू राजवीर ! मैंने भी उसे आई लव यू कहा | अब हम दोनों रोज ही चुदाई किया करने लगे | उसके बाद एक दिन उससे एक आंटी मिलने आई | मैं उस समय खाना खा कर उसके रूम की तरफ जा रहा था तो मैं देखा कि वो आंटी और सजनी दोनों 69 पोजीशन में थी और दोनों इक दूसरे की चूत चाट रही थी और आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारिया ,ले रही थी | मैं ये सब देख कर एक दम चौंक गया कि जब मैं इसको रोज लंड दे रहा हूँ तो ये लेस्बियन सेक्स क्यों कर रही है | वो दोनों 20 मिनट तक एक दूसरे की चूत चाटी और एक दूसरे के मुंह में ही झड़ गई | उसके बाद मैं उसे रूम गया जब वो वो दोनों कपडे पहन कर बैठ के बात करने लगी | फिर सजनी ने मुझे उससे मिलाया और कहा कि इनका नाम अर्चना है और ये मेरी फ्रेंड है | मैंने भी कहा अच्छा | फिर दोनों बैठ कर बात करने लगी | मैं नोटिस कर रहा था कि अर्चना मुझे बड़े ही ध्यान से देख रही थी | मुझे दाल में कुछ काला लगा | कुछ देर के बाद वो चली गयी | मैंने सजनी से पूछा कि तुम उसके साथ लेस्बियन सेक्स क्यूँ कर रही थी ? मेरा लंड कम पड़ गया क्या ? तब उसने बताया कि मैं उसके साथ लेस्बियन सेक्स उसके कहने पर करती हूँ |

असल में वो बहुत ही पंहुच वाली हस्ती है | वो चुदाई के बदले मुझे पैसे देती है | और वो कभी कभी ही मेरे पास आती है | मैंने कहा अच्छा | मुझे जॉब तो कोई अच्छी खासी मिल नहीं रही थी तो मैंने कहा कि यार मेरे लिए इससे बात करवाओ न | उसने कहा कि मैं समझी नहीं तुम्हारा मतलब क्या है ? तो मैंने उससे बोला कि देखो मुझे जॉब मिल नहीं रही है और अगर मैं इसके साथ सेक्स करूँगा तो हो सकता है ये मुझे भी पैसे दे | तब सजनी ने कहा कि ठीक है अब जब ये कभी आयगी तो मैंने इससे बात करुँगी | उसके बाद मैंने उसकी चुदाई की और सजनी को फिर से संतुस्ट कर दिया | 3 दिन बाद मेरे पास कॉल आया कि आप को शास्त्री ब्रिज जाना है वहां आप को रेड कलर पहने एक लड़की मिलेगी उसे एक फूल लेकर कर देना तो वो आपको 20000 रूपए देगी | मैं कुछ समझ नहीं पाया | मैंने सोचा कि शायद कोई मुहचोदी कर रहा होगा | पर तभी मेरे दिमाग की घंटी बजी मैंने सोचा कि जब लड़की कॉल करके बोल रही है तो हो सकता है कि सच में ऐसा हो जैसा उसने कॉल में कहा | तो मैं तुरंत तैयार हुआ और अपनी बाइक उठा कर उसके बताये पते पर पंहुच गया | मैंने देख कि वहां एक लड़की जो का रेड कलर का टॉप पहने हुई खड़ी है | वो दिखने में बहुत ही ज्यादा सुंदर और सेक्सी सॉलिड बॉडी की मालकिन थी | मैं उसके पास गया और उससे बात किया और फिर जैसा मुझे फोन पर कहा गया था | मैंने सब कुछ वैसा ही किया | उसने मुझे तुरंत में 20000 रूपए दिए तो मैंने ये देख कर खुश हो गया और फिर उसने मुझे कहा कि मेरी कार के पास चलो | मैं अपनी बाइक खड़ी कर के उसके साथ जाने लगा फिर वो मुझे अपने घर ले कर गयी और अपने कपडे उतारने लगी | वो मुझसे कुछ भी नही कह रही थी | फिर उसके उसने मेरे होंठ पर अपने होंठ रख दिएऔर किस करने लगी | मैंने भी उसे किस करने लगा | किस्सिंग करने के बाद मैंने उसे चूमते हुए उसके दूध दबाये और फिर उसे चूसा | फिर उसने मुझे ६००० रूपए और दिए चूत और गांड चाटने के | उसके बाद मैंने उसकी चूत और गांड चाटने में ही एक बार उसे झड़ा दिया था | फिर उसने मुझे अपने पर्स से कंडोम निकाल के मेरे लंड को पहनाया | फिर मैंने उसकी टंगे उठाया और उसे आधे घंटे तक खूब चोदा |

यहाँ से मेरी चुदाई का सिलसिला शुरू हो गया | अब मैं एक मस्त लौंडा हूँ |


(0) Likes (0) Dislikes
220 views
Added: Sunday, May 27th, 2018
Added By:
Vote This:        

Category: Hindi Sex Stories

Your Vote

×
Comments
Sponsors
loading...
Search Site
Share With Us
Random Video
Facebook
Sponsors
loading...
Sponsors
loading...
Sponsors
loading...