Sponsors
loading...
जॉब भी मिली और चूत भी

नमस्ते दोस्तों, कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करता हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | आप सभी को मेरा सादर प्रणाम | मेरा नाम तेजस है और मैं दरभंगा का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 20 साल है और मेरा ग्रेजुएशन पिछले साल ही हुआ है | मैं दिखने में गोरा हूँ और मेरी कद काठी भी अच्छी है क्यूंकि मैं जिम भी जाता हूँ | दोस्तों मैं इस साईट का पुराना पाठक हूँ और मुझे इस साईट में चुदाई की कहानियां पढ़ना अच्छा लगता है | मैं रोज ही इस साईट में कहानियां पढ़ कर मजे लेता हूँ तो मैंने सोचा कि क्यूँ आज मैं आप लोगो को मजे दूं | तो दोस्तों आज जो मैं आप लोगो के समक्ष अपनी कहानी पेश करने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आयगी | तो अब मैं आप लोगो के समय को बर्बाद नहीं करते हुए अपनी कहानी शुरू करता हूँ |

ये घटना पिछले साल की है जब मेरा ग्रेजुएशन कम्पलीट हो चुका था | उसके बाद मैंने अपने घर में बोल दिया था कि एक साल तक मैं कोई भी पढाई या किसी भी प्रकार का कोर्स नहीं करूँगा तो घर वाले भी मान गए थे इस बात को | इसलिए मैं घर में ही रह कर वीडियो गेम खेलता रहता तो कभी अपने दोस्तों के साथ घूमता या कहीं बाहर चला जाता अपने चाचा चाची के घर या बुआ के घर | ऐसे ही करते करते मुझे तीन महीने हो गए | अब मुझे बोर सा लगने लगा क्यूंकि मेरे काफी दोस्तों ने आगे की पढाई के लिए कॉलेज ज्वाइन कर लिया और कुछ बाहर चले गए जॉब के लिए | मुझे ऐसा लगने लगा था कि मैं बेकार ही मैं अपना समय बर्बाद कर रहा हूँ | फिर मैंने फैसला लिया कि अब मैं कोई एक साल के लिए टेम्पररी जॉब कर लेता हूँ |

मैंने अपने पापा से कहा कि पापा मुझे जॉब करना है अगर आपकी नजर में कोई जॉब हो तो बताओ ? तो पापा ने कहा देखा अब तू बड़ा हो गया है तो जॉब ढूँढने की कोशिश कर | इससे तुझमे हिम्मत आयगी और आत्मविश्वास बढेगा | मैंने पूछा वो कैसे ? तो उन्होंने कहा कि तू जॉब ढूँढने जायगा तो जरुरी नहीं है कि तुझे वो जॉब मिल ही जायगी | जब तुझे जॉब नहीं मिलेगी तो तुझे खुद में अच्छा नहीं लगेगा और फिर ऐसे ही करते करते तुझमे आत्मविश्वास बढ़ेगा | मैं पापा की बात समझ गया तो मैंने सोचा कि एक साल की ही तो बात है | मैंने कई जगह कोशिश की पर मुझे जॉब नही मिल रही थी और कुछ जगह मिल रही थी पर सैलरी कम मिल रही थी तो मैंने नहीं की | फिर मुझे ख्याल आया कि मेरे दोस्त के पापा के एजेंसी में पूछ कर देखता हूँ | मैंने अपने दोस्त को कॉल किया और उसे अपनी बात बताई तो उसने कहा कि पापा से बात करके देखता हूँ | उसके बाद जब उसने अपने पापा से बात की तो उसके पापा ने मुझे मिलने बुलाया | जब मैं वहां गया उनसे मिलने तो उन्होंने मुझे अपनी दोस्त की बेटी का नंबर दिया और कहा कि इसने अभी अभी नया नया काम चालू किया और उसको एक लड़के की जरुरत है | मैंने कहा ठीक है अंकल मैं इनसे बात कर के देखता हूँ | अगले दिन मैं गया तो वो एक एम.पी.ऑनलाइन की शॉप थी | मैं अन्दर गया तो उन्होंने बताया कि ऐसा ऐसा काम है और तुम्हारे बारे में संतोष अंकल ने बताया था | उस दिन बस उसने मुझे काम समझाया था | उसका नाम वंदना है और वो दिखने में क्यूट है प्यारी सी बच्ची जैसे | वो गोरी भी है और उसका फिगर भी अच्छा है बस दूध छोटे हैं | अगले दिन से मैंने शॉप जाना चालू कर दिया | शॉप में काम ज्यादा होता था और बहुत ही कम टाइम मिलता था बात करने के लिए | हम बस लंच टाइम में फ्री हो कर बात कर पाते थे | ऐसे ही बात करते करते हम दोनों में काफी अच्छी दोस्ती हो गई थी | जब उसे शॉप के लिए कुछ कुछ सामान लाना पड़ता था तो हम दोनों ही मार्किट जाते और सामान ले कर आते थे | फिर एक दिन उसने कहा कि मोबाइल का काम भी चालू करना है तो चलो अपन कभी दिल्ली चलते हैं | मैंने कहा ठीक है बता देना जब भी दिल्ली चलना हो तो | उसने कहा ठीक है | हम दोनों की मोबाइल पर भी बात होने लगी थी | मुझे उसकी बातो से कभी कभी लगता था जैसे वो मुझे पसंद करती है | अब हम दोनों में मजाक भी होता था तो एक दिन मैंने उसे कहा कि यार मैं तुम्हे पसंद करता हूँ | तो वो गुस्सा नहीं हुई और पूछा कि क्या अच्छा लगता है मुझमे ? तो मैंने उसे बताया कि मुझे तुम्हारी सादगी और सुन्दरता दोनों बहुत अच्छे लगते हैं | ये बात सुन कर वो स्माइल करने लगी | मैं समझ गया था कि ये भी मुझे पसंद करती है | रात में उसने मुझे मेसेज किया कि तेजस मैं भी तुम्हे पसंद करती हूँ | अब हम दोनों की दोस्ती प्यार में बदल चुकी थी और मेरा मजाक वाला प्यार अब रियल लव में तब्दील हो चुका था | कुछ समय तक हम दोनों में बस नार्मल बात ही होती थी लेकिन धीरे धीरे हम दोनों नॉटी चैट करने लगे | उसे भी मेरे भेजे नॉनवेज मेसेज अच्छे लगते थे और वो भी मुझे कभी कभी ऐसे मेसेज कर दिया करती थी | ऐसे ही करते करते हम दोनों 4 महीने हो गए थे और फिर हम दोनों में सेक्स चैट भी शुरू हो गई | फिर एक दिन मैंने उसे शॉप में कह दिया कि तुम्हारे साथ सेक्स करना है | तो उसने कहा कि यार सेक्स तो मुझे भी करना है लेकिन मैं घर में अकेली नहीं हो पाती हूँ | तो मैंने कहा तुम टेंशन मत लो मेरे घर वाले कुछ दिन के लिए बाहर शादी में जाने वाले हैं | ये बात सुन कर वो खुश हो गई | उसे ऐसा लगा जैसे उसकी मुराद पूरी हो गई हो | फिर वो दिन भी आ गया | मैंने उसे कहा कि आज शॉप की छुट्टी रखो उसने कहा ठीक है और वो शॉप बंद कर के मेरे घर आ गई |

जब वो मेरे पास आई तो वो काफी शरमा रही थी तो मैंने कहा जान आज शर्मा लो जितना शर्मना है शादी के बाद तो इन सब की आदत हो जायगी | उसने ये सुन कर कहा चलो अभी से ही शर्मना बंद और वो अपने होंठ मेरे होंठ से दबा कर किस करने लगी | मैं उत्तेजित हो गया तो मैं भी उसका साथ देते हुए किस करने लगा | हम दोनों एक दूसरे को होंठ को चूस रहे थे और एक दूसरे के बदन को भी सहला रहे थे | किस करने के बाद मैं अपने पूरे कपड़े उतारे और नंगा हो गया | वो भी शर्म छोड़ कर नंगी हो गई कपड़े उतार कर | फिर मैं उसके दोनों अनार के शेप के दूध को चूसने लगा तो उसके मुँह से आहाआ ऊनंह उऊंम्ह ऊन्न्म्ह उआहा ऊउन्न्ह ऊउमंह आहा ऊउन्न्ह ऊउम्मंह की सिस्कारियां निकलने लगी | उसके दोनों दूध को चूसने के बाद मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और दोनों टांगो को खोल कर अपने मुँह को उसकी चूत से सटा दिया और चाटने लगा तो वो आहाआ ऊनंह उऊंम्ह ऊन्न्म्ह उआहा ऊउन्न्ह ऊउमंह आहा ऊउन्न्ह ऊउम्मंह करते हुए तड़पने लगी | मैंने उसकी चूत को करीब 10 मिनट तक चाटा | उसके बाद वो मेरे लंड को अपने मुँह के पास ले जा कर जीभ से चाटने लगी तो मेरे मुँह से आहाआ ऊनंह उऊंम्ह ऊन्न्म्ह उआहा ऊउन्न्ह ऊउमंह आहा ऊउन्न्ह ऊउम्मंह की सिस्कारियां निकलने लगी | मेरे लंड को चाटने के बाद उसने उसे मुँह में लिया और अन्दर बाहर करते हुए चूसने लगी | मुझे उसका ऐसा करना काफी उत्तेजना से भर रहा था | वो मजे ले कर मेरे लंड को चूस रही थी और मैं आहाआ ऊनंह उऊंम्ह ऊन्न्म्ह उआहा ऊउन्न्ह ऊउमंह आहा ऊउन्न्ह ऊउम्मंह करते हुए उसके मुँह को चोद रहा था | उसके बाद मैंने उसकी चूत में लंड टिकाया और अन्दर डाल दिया और चोदने लगा तो वो भी आहाआ ऊनंह उऊंम्ह ऊन्न्म्ह उआहा ऊउन्न्ह ऊउमंह आहा ऊउन्न्ह ऊउम्मंह करते हुए चुदाई के मजे लेने लगी | कुछ देर चोदने के बाद मैंने अपनी चुदाई तेज कर दिया और जोर जोर से उसे चोदने लगा तो वो भी आहाआ ऊनंह उऊंम्ह ऊन्न्म्ह उआहा ऊउन्न्ह ऊउमंह आहा ऊउन्न्ह ऊउम्मंह करते हुए बोलने लगी और चोदो और चोदो | करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद मैंने अपना वीर्य उसकी चूत के ऊपर निकाल दिया और फिर उसके बाजू में लेट गया | उसके बाद हम दोनों ने फिर से चुदाई की |


(0) Likes (0) Dislikes
314 views
Added: Thursday, March 29th, 2018
Added By:
Vote This:        

Your Vote

×
Comments
Sponsors
loading...
Search Site
Share With Us
Random Video
Facebook
Sponsors
loading...
Sponsors
loading...
Sponsors
loading...