Sponsors
loading...
बोर्ड एग्जाम में टीचर को...

हाय दोस्तों सब लोग ठीक हो ? मुझे लगता है सब मेरे दोस्त ठीक ही होंगे | दोस्तों मैं आज आप सभी लोगो की सेवा में एक अपनी कहानी लेकर आया हूँ | दोस्तों ये पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची कहानी है | मैं अपनी कहानी शुरू करने से पहले सबको अपने बारे में बता देता हूँ |

मेरा नाम अनिल है | मेरी उम्र 19 साल है | मैं रहने वाला हैदराबाद का हूँ | मैं दिखने में गोरा हूँ और स्टालिश रहता हूँ जिससे में ज्यादा स्मार्ट लगता हूँ | मेरी हाईट 5 फुट 8 इंच है | मेरे लंड का साइज़ 6 .5 इंच है और मोटा 2 इंच है | दोस्तों मुझे चुदाई करना बहुत पसंद है | मैं सेक्सी मूवी भी बहुत देखता हूँ तो मुझे चुदाई करने के मस्त स्टेंड भी पता हैं जिससे मैं लड़की की चीख तक निकाल देता हूँ | ये जो मैं कहानी लिखने जा रहा हूँ | अपने दोस्तों के कहने पर लिखा रहा हूँ | दोस्तों तो मैं अपनी ये कहानी शुरू करता हूँ | मुझे उम्मीद है की आप सभी लोगो को ये कहानी पढ़ कर मज़ा आयेगा ही और पसंद तो जरुर आयेगी | अब मैं आप सभी लोगो का ज्यादा टाइम न लेते हुए सीधे कहानी पर आता हूँ |
sunny_leon_9
ये कहानी पिछले साल की है जब मैं बोर्ड के एग्जाम दे रहा था | दोस्तों मैं तब 12 में पढता था | मैं एक मस्त लड़का हूँ और दोस्ती करने में तो एक्सपर्ट हूँ इसलिए मेरे काफी दोस्तों है | मेरी गर्लफ्रेंड भी कई बन चुकी हैं और मैं चुदाई भी बहुत लड़कियों की कर चूका हूँ इसलिए मेरी दोस्त लड़कियां ज्यादा बनती है | मैं इतना स्मार्ट हूँ की कोई भी लड़की पट जाये | जब मैं अपने कॉलेज में पढता था उस टाइम मेरी एक गर्लफ्रेंड भी थी | मैं आप लोगो को अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में बता देता हूँ | उसका नाम रानी था और वो दिखने में ज्यादा गोरी नही थी पर उसका सेक्सी फिगर था | उसके बूब्स ज्यादा बड़े तो नही थे लेकिन उसके बूब्स गोल और चिकने थे | उसकी गांड मस्त थी जब वो चलती थी तो ऐसा लगता था कोई नागिन जा रही है | मुझे उसकी गांड ही अच्छी लगती थी | एक दिन की बात है जब रानी ने मुझसे रेस्टोरेंट में खाना खाने के लिए कहाँ तो मैंने कहा ठीक है पर आज नही फिर कभी चलते हैं | ये बात कह कर मैंने उसको मना कर दिया | फिर मैं अपने घर चला आया था उसके 4 – 5 दिन के बाद की बात है | जब मेरे पास रूपये थे | मैं उसे घुमाने ले गया और वहां से आने के बाद उसको रेस्टोरेंट में खाना खिलाया फिर उसको एक होटल में ले गया | उस दिन मैंने उसकी मस्त चुदाई की थी और दोस्तों उसकी सील भी मैंने ही तोड़ी थी | उसके बाद में उसको काफी बार चोद चूका हूँ | फिर कुछ दिनों के बाद मेरे बोर्ड के एग्जाम आने वाले थे तो मैंने सब कुछ छोड़कर अपनी पढाई करने में लग गया | इस तरह से मैं रोज के रोज पढाई करता रहा और फिर कुछ ही दिन में एग्जाम भी आ गए तो मैं एग्जाम देने के लिए दूसरी जगह जाना था | तो मैंने वहां पर एक रूम रेंट पर लेके रुक गया |

फिर जब मैं पहला पेपर देने के लिए गया तो मैं उस दिन पढाई करके गया था | उस दिन जो मुझे याद था वहीँ सब पेपर में आ गया था | उस दिन मैं पेपर को पूरा करने के बाद बैठ गया तो जो सर वहां पर थे | वो मुझसे बोले की बेटा क्या हुआ बैठे हो पेपर हो गया | मैंने कहा हाँ हो गया उसके 30 मिनट बाद ही सबको छोड़ दिया गया और सब लोग अपने अपने घर चले गए | मेरा दूसरा पेपर उसके 2 दिन बाद था और मैंने खूब तैयारी की और फिर तीसरे दिन पेपर देने गया | जब मैं उस दिन पेपर देने गया था तो उस दिन मेरे क्लास में मस्त पटाका मैडम की ड्यूटी लगी थी | फिर मैडम ने हम सबको कापी और पेपर दिया और सब लोग अपने कॉपी पर रोल नम्बर लिखने लगे | मैंने भी अपना रोल नम्बर डाला और कॉपी तैयार की | जब मैडम अपनी साइन करने लगी | वो जब साइन कर रही थी तो कुछ बच्चो ने रोल नम्बर गलत डाला था | वो लडको को सही करने को कहा और मेरे पास आ गयी वो मुझे बड़े ही प्यार से देख रही थी और साइन करके चली गयी | मैं अपना पेपर हाल करने लगा | फिर कुछ देर बाद मैंने देख की मैडम मुझे बड़े ही ध्यन से देख रही है | वो मझे लाइन भी मार रही है तो मैंने भी उनकी तरफ देख कर आंख मार दी | मैं भी मैडम को लाइन मारने लगा | फिर कुछ ही देर में मैडम उठ कर मेरे पास आई और बोली की कोई चीज समझ न आये तो मुझसे पूछ लेना | मैंने कहाँ ओके मैडम जी | फिर मैंने कुछ देर बाद उनको बुलाया और कुछ सही गलत और बहुबिकल्पीय पूछे और मैडम ने बता दिया | फिर मैंने अपना पेपर करके दे दिया तो वो मुझसे बोली की रुकना तुमसे कुछ बात करनी है | मैं उनका बाहर इंतजार करने लगा और कुछ देर बाद वो आई |

मैं – जी हाँ क्या है मैडम जी ?

वो – कुछ नही तुम कहाँ रहते हो ?

मैंने उनको अपने घर का पता बता दिया |

वो – तुम्हारा नाम क्या है ?

मैंने उनको अपना नाम बता दिया और पूछा मैडम जी आप का क्या नाम है ?

वो – मेरा नाम सौम्या है

वो मुझसे ऐसे ही कुछ देर तक बात करती रही और मेरा नम्बर भी ले लिया | फिर बोली तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है | मैंने कहा नही तो वो बोली कोई दिक्कत हो तो मुझे कॉल करना मैं तुम्हारी मदद कर दूंगी तो दोस्तों मुझे इतना तो समझ आ गया था की ये भी मेरी दिवानी हो गयी है | इस तरह से धीरे – धीरे मेरे पेपर भी ख़त्म ही हो गए | तब वो मुझे फ़ोन करने के बाद बोली की तो कब घर जा रहे हो तो मैंने कहा आज तो बोली की आज नही कल चले जाना आज मेरे घर पर कुछ काम है कर दो क्यूंकि मेरे घर पर कोई नही रहता है | तब मैंने कहा ठीक है तो कितने टाइम आ जाऊ तो वो बोली की शाम तक आना | मैं शाम को उनके घर गया तो उनके घर का पंखा नही चल रहा था तो मैंने वो पंखा सही किया तब वो बोली की डिनर कर लो और मैंने भी कहाँ हाँ फिर जब वो मुझे खाना दे रही थी | तब उनके बड़े बूब्स मुझे दिख रहे थे | मैं उनके बूब्स को देखकर अपने लंड को हाथ लगाया तो मेरा लंड खड़ा हो गया | मैं खाना खा ही रहा था की वो अन्दर चली गयी | जब मैं खाना खाकर उठा तो वो मेरे सामने मेक्सी पहन कर आ गयी |

वो मेक्सी में मस्त पटका लग रही थी | मुझे लगा की वो मुझे बुला रही है | तब मैं पागल सा हो गया और अपने आप पर कन्ट्रोल नही कर पाया | उनको पकड कर अपनी ओर खीच लिया तो वो भी मेरे लिपट गयी | मैं उसके गले में किस करने लगा और वो मेरे लिपटी हुई मेरे सर को पकड कर सहलाने लगी | मैं उसके गले में किस करते हुए उसकी मेक्सी को उतार दिया और वो मेरे सामने ब्रा और पेंटी में आ गयी | मैं उनको पकड कर उसके पुरे जिस्म में किस करने लगा साथ में ही उनकी कमर को पकड कर उसकी नाभि में किस करने लगा | उनके शरीर में जैसे आग सी लग गयी हो और वो तडपने लगी | मैं उसकी कमर को कस के पकड कर किस कर रहा था | मैं ऐसे ही किस 5 मिनट तक करने के बाद | मैंने उसके बूब्स को ब्रा के ऊपर से दबाने लगा | वो सोफे को कस कर पकड़ लिया और मैं उसके बूब्स को दबाते हुए उनकी ब्रा भी खोल दी | फिर उनके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा | वो सेक्सी आवाज में आ आ आ आ… ऊ ऊ ऊ ऊ… अ अ अ अ… हु हु हु हु… उई माँ उई माँ… की सिसकियाँ लेने लगी | मैं उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूस रह था और दुसरे वाले को हाथ से पकड कर दूध के निप्पल को मसल रहा था | मैं उसके बूब्स को ऐसे ही 4 -5 मिनट तक चूसता रहा | फिर मैंने उसकी टांगो को फैला कर उसकी चूत में अपने मुंह को घुसा कर उनकी चूत को चाटने लगा | वो आ आ आ आ… ऊ ऊ ऊ ऊ… अ अ अ अ… हु हु हु हु… उई माँ उई माँ… अह अहः… की सिसकियाँ लेने लगी | मैं उनकी चूत में अपनी जीभ को घुसाने के साथ में अपनी ऊँगली भी घुसा दी तो उसके मुंह से अह अह उई… आ आ आ आ… ऊ ऊ ऊ ऊ… अ अ अ अ… हु हु हु हु… उई माँ उई माँ… की सिसकियाँ ले रही थी और अपने बूब्स को मसल रही थी |

फिर मैंने अपने कपडे निकाल कर अपने लंड पर थूक लगाया | फिर उनकी चूत के मुंह पर रख कर उनकी चूत में अपने लंड को घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा | उनकी चूत गीली होने की वजह से मेरा लंड पूरा ही अन्दर चला गया | वो अपने बूब्स के निप्पल को घुमा घुमा कर मसल रही थी | मैं उनकी कमर को पकड कर जोर जोर के धक्को के साथ उसकी चूत में अन्दर बाहर करते हुए उसको चोद रहा था | वो मस्त होकर अपनी चूत को सहलाती हुई चुद रही थी | मैं उनको जोरदार धक्को के साथ उनकी चूत में अपने लंड को अन्दर बाहर करते हुए चोद रहा था | फिर उसने मेरे लंड को चूत से निकालने को कहा | मैंने उसकी चूत से अपने लंड को निकाल लिया और वो अपनी चूत में ऊँगली डाल कर जोर जोर से हिलाने लगी | उनकी चूत से गर्म पानी की धार निकल गयी | मैं अभी तक नही झडा था तो मैंने दुबारा उसकी चूत में लंड को डाल कर जोरदार धक्को के साथ चोदने लगा और फिर 14 -15 मिनट की मस्त चुदाई के बाद झड गया | फिर हम दोनों लोग बिना कपडे पहने ही सो गए जब मैं सुबह उठ और उनके जिस्म को देख कर मेरा लंड फिर खड़ा हो गया तब मने उसको फिर एक बार चोदा |

बोर्ड एग्जाम में टीचर को चोद डाला

बिजनेस के सिससिले में कनाडा जाकर की चुदाई
तीन लंड को एक साथ संभाला


(0) Likes (0) Dislikes
579 views
Added: Sunday, December 17th, 2017
Added By:
Vote This:        

Your Vote

×
Comments
Sponsors
loading...
Search Site
Share With Us
Random Video
Facebook
Sponsors
loading...
Our Pages
Sponsors
loading...
Sponsors
loading...