Sponsors
loading...
भाभी को खेल खेल में नंगा...

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम अनमोल है | मैं आज सेक्सी कहानी पढने वालो को के लिए अपनी कहानी लेकर आया हूँ | मैं अपनी कहानी शुरू करने से पहले अपने बारे में बता देता हूँ | मैं रहने वाला चेन्नई का हूँ | मेरी उम्र 23 साल है | मैं दिखने में गोरा हूँ और मेरी हाईट 6 फुट 4 इंच है | मेरी हाईट ज्यादा होने की वजह से मैं स्मार्ट दिखता हूँ | मुझे सेक्सी कहानी पढना पसंद है और मैं कभी कभी सेक्सी कहानी पढ़ लिया करता हूँ | मेरे घर में हम 3 लोग रहते हैं | मैं और मेरे बड़े भईया भाभी रहते हैं | मेरे मम्मी और पापा की एक हादसे में मौत हो गयी थी | तब मैं 7 साल का था | तब से मुझे मेरे भईया ने ही मुझे पढाया लिखाया | अब मेरे भईया ने शादी कर ली है और मेरी भाभी बहुत अच्छी है | वो मुझे बहुत प्यार करती है | मेरी भाभी मुझसे बहुत मजाक करती है और जब वो मजाक करती है तो मुझे अच्छा लगता है | दोस्तों जो मैं आज कहानी आप लोगो के सामने लेकर आया हूँ | ये मेरे और मेरी भाभी की सेक्स की कहानी है | अब मैं कहानी शुरू करता हूँ |
sunny_leon_ (20)
ये कहानी अभी कुछ महीने पहले की है | उस दिन से मेरी जिन्दगी ही बदल गयी | मेरी भाभी का नाम गुडिया है और वो दिखने में किसी डॉल से कम नही लगती है | उनका चेहरा गोल है और उनके चेहरे पर हमेशा एक मुस्कान रहती है | जिसकी वजह से वो ज्यादा ही सुन्दर लगती है | उनका फिगर भी सेक्सी | | उनके बूब्स ज्यादा बड़े नही है | पर इतने बड़े है की वो ब्रा लगती है और उनकी गांड तो बहुत सेक्सी है | दोस्तों मेरा कहने का मतलब है की कुछ लडकियों की तरह उनकी गांड ज्यादा बड़ी नही है न ही जब वो चलती है तो उनकी गांड हिलाती है | मेरे भईया एक सरकारी कम्पनी में जॉब करते हैं जिसकी वजह से वो अक्सर बाहर जाया करते हैं | मैं और भाभी एक दुसरे से खुल कर बात करते हैं अगर उनको कुछ मुझसे कहना होता है तो वो शर्माती नही है | मुझे भी कुछ कहना होता है तो मैं उनसे बिना हिचकिचाहट के कह देता हूँ | एक दिन की बात है जब मैं और भाभी घर में थे | उस दिन मेरे भईया अपने ऑफिस से आये और भाभी से बोले की मुझे कुछ काम से बाहर जाना है तो जल्दी से कुछ खाने को बना दो | उस टाइम मैं और भाभी एक दुसरे से बात कर रहे थे |

तब भाभी भईया के लिए खाना तैयार किया और भईया खाना खाने के बाद चले गए | फिर मैं और भाभी उस शाम एक मूवी आ रही थी और हम दोनों वो मूवी देखने लगे | उस मूवी में मैं और मेरी भाभी ने एक गेम देखा | उस गेम में वो लोग एक बोतल को घुमाते थे और जिसके सामने वो बोतल रूकती थी उससे कोई एक सावल करते | जो बोतल को घूमता था अगर वो उससे जो भी सवाल करता तो उसको उस सवाल के बारे में सच ही बताना होता | कुछ देर बाद वो मूवी ख़त्म हो गई |

मुझे भूख लग रही थी तो मैंने भाभी से खाने के लिए कहा | भाभी ने दो प्लेट लगा दी और हमने साथ में बैठ कर खाना खाया | खाने खाने के बाद मैं सोने चला गया | कुछ देर बाद भाभी मेरे बेडरूम में आई और बोली अनमोल आओ हम भी वही गेम खेलते हैं | मैं मान गया और भाभी एक बोतल लेके आई और मैंने अपनी पढाई की टेबल को खीच कर आगे किया और उनके लिए एक कुर्सी डाली | भाभी बैठ गयी और पहले भाभी ने बोतल घुमाई पर वो बोतल किसी की तरफ नही रुकी | मेरी बारी आई मैंने बोतल घुमाई और बोतल मेरी तरफ ही रुक गयी | भाभी ने मुझसे पहला सवाल किया |

भाभी – अनमोल तुम्हरी गर्लफ्रेंड है ?

मैं – नही भाभी

फिर भाभी ने बोतल घुमाई और फिर से वो मेरी तरफ ही रुक गयी |

भाभी – अनमोल तेरी गर्लफ्रेंड पहले थी ?

मैं – नही भाभी मेरी कोई आज तक गर्लफ्रेंड नही बनी |

मैं समझ गया था की भाभी आज मुझसे मेरे बारे में सब जान लेंगी |

फिर से भाभी ने बोतल घुमाई इस बार बोतल भाभी की तरफ रुक गयी और मैंने भाभी से उनका ही सवाल पूछ लिया | तब भाभी ने बताया की हाँ मेरा एक बॉयफ्रेंड था | जब मैं कॉलेज में पढ़ती थी उस टाइम | फिर मैंने बोतल घुमाई तो वो बोतल किसी की और नही रुकी | तब भाभी ने घुमाई तो वो मेरी तरफ ही रुक गयी | तब भाभी ने मुझसे पूछा तुमने कभी सेक्स किया है | मैंने कहा नही भाभी और भाभी ने फिर से बोतल घुमा दी | इस बार बोतल उनके सामने रुक गयी | मैंने उनसे पूछा तुमने शादी से पहले सेक्स किया है | वो बोली हाँ 2 बार अपने बॉयफ्रेंड के साथ | ये बात सुनकर मुझे जोर का झटका लगा | मैंने सोचा की जब बॉयफ्रेंड था तो सेक्स क्यूँ नही हुआ होगा | उसके बाद मैंने बोतल घुमाई और वो मेरी तरफ ही रुक गयी | इस बार भाभी ने मुझे अपना लंड दिखाने को कहा | मैंने अपनी पैंट निकाल दी | जब भाभी ने मेरे लंड को देखा तो मुझे उनके चेहरे पर एक ख़ुशी दिखी | तब मैं समझ गया की भाभी मुझसे अपनी चुदाई करना चाहती है इसलिए ये गेम खेल रही है |

अगली बार मुझे चांस मिला तो मैंने उनके अपने बूब्स दिखाने को कहा | भाभी ने अपनी साड़ी हटाने के बाद अपना ब्लाउज और ब्रा खोल दी | दोस्तों मैं उनके बूब्स को देख कर पागल हो गया | उनके दूध एकदम गुलाबी थे और बहुत ही गोल |अगली बार फिर से मुझे मौका मिला और मैंने इस बार उनके दूध को मेरे मुंह में रखने को कहा | वो जब अपने एक दूध को मेरे मुंह में रख दिया तो मेरा लंड तुरंत खड़ा हो गया | अब इस तरह से धीरे धीरे मैंने भाभी को पूरा ही नंगा कर दिया | भाभी ने मुझे नंगा कर दिया | तब मैंने भाभी से कहा भाभी गेम बंद करो और कपडे पहन कर अपने रूम में जाओ | वो बोली की एक बार और खेलते हैं और भाभी ने बोतल घुमा दी | बोतल मेरे सामने रुक गयी और भाभी ने बोला अनमोल मुझे तुम्हारे लंड से चुदना है | अनमोल तुम चीटिंग नही कर सकते हो गेम के रूल के हिसाब से तुम हार रहे हो |

मैं भी मान गया और भाभी को अपनी बाँहों में भर कर अपनी बेड पर लेटा दिया | मैं भाभी को अपनी बेड पर लेटा कर उनके गुलाबी जिस्म को अपनी जीभ से चाटने लगा | वो मेरे बिस्तर पर लेट कर जोर जोर से गर्म सांसे ले रही थी | मैं उनके पेट पर किस करते हुए ऊपर की और बढ़ता रहा | फिर उनकी गुलाबी होठो पर अपनी होठो को रख कर उनकी होठो को चूसने लगा | मैं उनकी मस्त रसीली होठो को चूसने लगा | वो मेरी होठो को चूस रही थी | मैं कुछ ही देर मे उनके होठो की सारी लिपस्टिक चूस डाली | मैं उनकी होठो को चूसने के बाद में उनके एक दूध को दबाते हुए मुंह में रख कर चूसने लगा | मैं उनके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने के साथ दुसरे वाले दूध के निप्पल को ऊँगली से दबा रहा था | मैं उनके बूब्स को दोनों हाथो में पकड़ कर जोर जोर से दबा रहा था | वो मस्त सेक्सी आवाजे कर रही थी | मैं उनके बूब्स को ऐसे ही कुछ देर तक चूसने के बाद नीचे आया और भाभी ने अपनी टांगो को खोल दिया | मैंने उनकी गुलाबी चूत में अपनी जीभ को घुसा दिया | मैं उनकी चूत में जीभ को घुसा दिया तो भाभी के मुंह से आ आ आ… ऊ ऊ ऊ ऊ… ह ह ह ह.. की सिसकियाँ निकल गयी | मैं उनकी चूत को ऐसे ही कुछ देर तक चूसता रहा | फिर मैंने अपने लंड को भाभी के हाथ में पकड़ा दिया | वो मेरे 6 इंच लम्बे लंड को पकड़ कर हिलाती हुई बिस्तर पर घुटनों के बल बैठ गयी | वो बैठ कर मेरे लंड को मुंह में रख कर चूसने लगी | वो मेरे लंड को अपने मुंह में रख कर ऐसे ही कुछ देर तक चूसती रही | तब मैंने उनके मुंह से अपने लंड को निकाल कर उनकी एक तांग को उठा कर उनकी चूत में लंड को घुसा दिया | वो बिस्तर पर उछल गयी और अपने बूब्स के निप्पल को कस कर घुमाने लगी | मैं उनकी चिकनी कमर को कपड कर उनकी चूत में जोरदार धक्को के साथ अन्दर बाहर करने लगा | वो ऊ ऊ ऊ…… आ आ आ…. ह ह ह ह…… उई उई उई… माँ माँ माँ… की सेक्सी आवाजे कर रही थी | मैं उनकी चूत में जोरदार धक्को के साथ उनको चोद रहा था | मैं उनकी चूत में ऐसे ही जोरदार धक्को को 15 मिनट तक मारता रहा जिससे उनकी चूत से पानी निकल गया | वो झड़ गयी पर मैं अभी भी चुदाई करने के लिए तैयार था | मैंने उनको घोड़ी बना दिया | फिर उनकी चूत में पीछे से लंड को डाल कर जोरदार धक्को के साथ उनको चोदने लगा | मैं भाभी जोरदार धक्को के साथ उनको ऐसे ही चोद रहा था | वो सेक्सी आवाजे करती हुई चुद रही था | मैं 15 -18 मिनट की मस्त चुदाई के बाद झड़ गया |

फिर मैं भाभी अपनी बाँहों में भर कर लेट गया | मैं उनको अपनी बाँहों में भर कर लेटा था और वो मेरे लंड को दुबारे चुदने के लिया तैयार कर रही थी | उस रात मैंने भाभी को दो बार चोदा था और वो मुझसे मस्त होकर चुदी थी | इसके बाद जब भईया घर नही होते थे तो भाभी मुझसे चुदती थी |

ये थी मेरी कहानी मुझे उम्मीद है की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी अगर आप लोगो को मेरी कहानी पंसद आई है तो मैं अगली कहानी के साथ आप लोगो की सेवा में जरुर हाज़िर हूँगा |

धन्यवाद…………….


(0) Likes (0) Dislikes
1040 views
Added: Friday, December 22nd, 2017
Added By:
Vote This:        

Your Vote

×
Comments
Sponsors
loading...
Search Site
Share With Us
Random Video
Facebook
Sponsors
loading...
Our Pages
Sponsors
loading...
Sponsors
loading...