Sponsors
loading...
भाभी को रगड़ के चोदा

हैल्लो दोस्तों, कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करता हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम एकांश है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 26 साल है और मैं अभी प्राइवेट जॉब करता हूँ | मैं दिखने में सांवला हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 10 इंच है और मेरी हेल्थ अच्छी खासी है | दोस्तों मुझे इस साईट के बारे में नेट में कुछ सर्च करने के दौरान पता चला था | तब से मैं इस साईट का फैन हो गया हूँ | पहले मुझे लगता था कि यहाँ पर लोग सिर्फ अपनी मनगड़ंत कहनियाँ छापते हैं | पर बाद में पता चला कि यहाँ पर कई सारे लोग ऐसे हैं जो अपनी रियल लाइफ कहानी लिखते हैं | मुझे कभी मौका नही मिल रहा था कि मैं अपनी कहानी यहाँ पर पोस्ट करूँ | लेकिन आज मुझे मौका मिला है तो आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी लिखने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी पढ़ कर काफी मजा आने वाला है क्यूंकि ये घटना कुछ है ही ऐसी | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय बर्बाद न करते हुए अपनी कहानी शुरू करता हूँ |

दोस्तों मैं एक बहुत ही अच्छे घर से हूँ | मेरे घर वाले बहुत रईस है लेकिन मेरी बदकिस्मती देखो | कभी कोई गर्लफ्रेंड नहीं बनी | मैंने भले ही पैसे दे कर रंडियां चोद सकता था लेकिन मुझे असली चूत चाहिए थी न की भोसड़ा | स्कूल टाइम में मेरे दोस्तों की गर्लफ्रेंड थी लेकिन मेरी नहीं | जब उन्हें चुदाई करनी होती तो वो लोग मुझे खड़ा करवा देते थे कि बस तू ये देखना कि कोई आये न | मैं उन लोगो को चुदाई करते हुए देखता था और अपना लंड निकाल कर बस मुट्ठ मार लेता था | मेरा यही काम था एक दिन की बात है मैं नेट में अपने असाइनमेंट सर्च कर रहा था तभी मुझे एक ऐड दिखाई दिया कि यहाँ पर आप अपनी चुदाई की इच्छा पूरी कर सकते हैं | तो मैंने उस लिंक पर क्लिक किया तो देखा कि वहां पर बहुत सारी देसी लड़कियों के फोटो और वीडियो थे | उन्ही के बीच में एक लिंक थी सच्ची कहानियां | मैंने सब को छोड़ कर कहानी पर क्लिक किया तो उसमे बहुत सारी कहानियां खुल गई | उन कहानियों में लोगो को असली कहानी थी | ये पढ़ कर मैं ज्यादा उत्तेजित हो गया | तो मैंने एक कहानी पढ़ी जो कि भाभी के ऊपर कहानी थी | अब जब मैं कहानी पढ़ रहा था तब मुझे मेरे घर के सामने वाली भाभी की याद आ रही थी | उस कहानी में मैंने पढ़ा कि कैसे शादीशुदा भाभी को पटाया जाए और कैसे चोदा जाए | ये बात सीधा मेरे दिल पर लगी | कहानी पढ़ते टाइम मैं मुट्ठ मार रहा था और भाभी को याद कर रहा था | जिस भाभी को मैं याद कर रहा था उसका नाम सविता है और वो दिखने में सांवली है पर उसका फेसकट बहुत ही प्यारा है | उसका पति आर्मी है और उसका एक बेटा है जो अभी बस तीन साल का है | भाभी अकेले घर में बोर होती रहती हैं तो वो अक्सर हमारे घर आ जाया करती हैं | मेरी मम्मी की वो बहुत इज्जत करती हैं और पापा से वो कम ही बात करती हैं | सविता का बेटा बहुत ही प्यारा है और जब भी वो आती है तो मैं उसके बेटे अंश को अपनी गोद में उठा कर झूला झूलता हूँ | मेरी सविता से कम ही बात होती थी लेकिन कुछ दिन से मैं नोटिस कर रहा था जैसे वो मेरे बारे में कुछ जानना चाहती हो | एक दिन की बात है भाभी मेरे घर आई और कहा कि यार मुझे काम करना है और अंश मुझे काम करने नहीं दे रहा है तो क्या आंटी उसे संभाल सकती हैं ? तो मैंने कहा भाभी मम्मी पापा तो दोनों किसी पार्टी में गए हैं और उन्हें आने में बहुत टाइम लगेगा | तो भाभी ने कहा की तुम देख लो न जब तक तब तक मैं काम कर लेती हूँ | मैंने कहा ठीक है | उस समय गर्मी का समय चल रहा था और मम्मी पापा किसी सिन्धी की शादी में गए थे | मैंने कहा ठीक है भाभी आप चलो मैं घर लॉक कर के आता हूँ | फिर मैं उनके घर गया और भाभी ने कहा कि तू इसे देख जब तक मैं खाना बाना लूं | मैंने कहा ठीक है भाभी | मैं बच्चे के साथ खेल रहा था और भाभी खाना बना रही थी |

जब भाभी ने खाना बना लिया तो उसके बाद उन्होंने कहा कि मै नहा कर आती हूँ | मैंने कहा ठीक है भाभी | जब भाभी नहाने गई तब मुझे वो कहानी याद आ गई तो मैंने जानबूझ कर बाथरूम की तरफ बॉल फेंक दिया | जब मैं बॉल उठाने गया तब मुझे वहां से सिस्कारी की आवाज़ आने लगी | मैं समझ गया कि भाभी अपनी चूत में जरुर कुछ कर रही होंगी | मैं दरवाजे के छेद से देखने लगा तो भाभी अपनी चूत को सच में सहला रही थी और अपने दूध भी दबा रही थी | ये देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया तो मैंने बाहर से ही आवाज़ लगाया भाभी क्या कर रहे हो ? तो भाभी ने कहा क्या हुआ मैं तो अभी नहा रही हूँ कुछ काम है क्या ? तो मैंने कहा आप नहा कर आइये न कुछ बात करनी है | भाभी नहा कर आई तो मैंने कहा भाभी आप अपनी चूत सहला रही थी क्या ? तो भाभी ने कहा हाँ तो क्या हुआ ? मैंने कहा कुछ नहीं | अगर आप को लंड की ही जरुरत है तो बोलो न मेरा लंड एक दम तना हुआ है | भाभी ने कहा अरे यार मैं अपने पति को धोखा नहीं दे सकती | तो मैंने कहा आप टेंशन मत लो आप अपनी पार्टी करो | भाभी ने कहा ठीक है तो मैंने भाभी को वहीँ अन्दर बाथरूम के दबोच लिया और उनके बदन के साथ खेलने लगा और भाभी तो पहले से ही गरम थी तो वो भी मेरा साथ देते हुए मुझे सहलाने लगी | फिर मैं भाभी के होंठ पर अपने होंठ रख कर किस करने लगा तो भाभी भी साथ देते हुए मेरे होंठ को जीभ से चाटने लगी | मैं भाभी के होंठ को चूस रहा था और भाभी भी मेरे होंठ को चूस रही थी | हम दोनों ने करीब 10 मिनट तक एक दूसरे के होंठ को चूसा और फिर मैंने भाभी के टॉवल को उतार दिया | भाभी अब मेरे सामने पूरी नंगी खड़ी थी | मैंने भाभी के दोनों दूध को मसलना चालू किया तो भाभी के मुँह से आहाआ आहाआ ऊउन्न्ह ऊन्न्ह्म आऊउन्ह ऊम्मंह ऊउन्न्ह आहाआ ऊन्न्म्ह ऊम्न्ह्ह अआहंह की आवाज़ निकलने लगी | फिर मैंने भाभी के दोनों दूध को बारी बारी से चूसना शुरू किया तो भाभी आहाआ आहाआ ऊउन्न्ह ऊन्न्ह्म आऊउन्ह ऊम्मंह ऊउन्न्ह आहाआ ऊन्न्म्ह ऊम्न्ह्ह अआहंह करते हुए मस्तानी होने लगी | फिर भाभी ने मुझे भी नंगा कर दिया और शावर चालू कर दिया | फिर भाभी अपने घुटनों के बल जमीन पर बैठ कर मेरे लंड को अपनी जीभ से प्यार करने लगी तो मेरे मुँह से भी आहाआ आहाआ ऊउन्न्ह ऊन्न्ह्म आऊउन्ह ऊम्मंह ऊउन्न्ह आहाआ ऊन्न्म्ह ऊम्न्ह्ह अआहंह की सिस्कारियां निकलने लगी | भाभी ने कुछ देर लंड चाटने के बाद लंड अपने मुँह में भर कर चूसने लगी तो मैंने भी आहाआ आहाआ ऊउन्न्ह ऊन्न्ह्म आऊउन्ह ऊम्मंह ऊउन्न्ह आहाआ ऊन्न्म्ह ऊम्न्ह्ह अआहंह करते हुए उसके मुँह की चुदाई करने लगा | भाभी जोर जोर से मेरे लंड को आगे पीछे हिलाते हुए चूस रही थी और मैं आहाआ आहाआ ऊउन्न्ह ऊन्न्ह्म आऊउन्ह ऊम्मंह ऊउन्न्ह आहाआ ऊन्न्म्ह ऊम्न्ह्ह अआहंह करते हुए सिस्कारियां ले रहा था | फिर मैंने भाभी को नीचे लेटाया और उसकी चूत को चाटने लगा तो भाभी आहाआ आहाआ ऊउन्न्ह ऊन्न्ह्म आऊउन्ह ऊम्मंह ऊउन्न्ह आहाआ ऊन्न्म्ह ऊम्न्ह्ह अआहंह करते उए कहने लगी कि ये सब छोड़ो बस अब मुझे चोदो | मैंने भी अपने लंड को भाभी की चूत पर टिकाया और कुछ देर लंड रगड़ने के बाद अन्दर डाल दिया और चोदने लगा तो भाभी भी आहाआ आहाआ ऊउन्न्ह ऊन्न्ह्म आऊउन्ह ऊम्मंह ऊउन्न्ह आहाआ ऊन्न्म्ह ऊम्न्ह्ह अआहंह करते हुए चुदाई के मजे लेने लगी | मैं काफी देर तक भाभी को ऐसे ही चोद रहा था और फिर एक दम से मैंने भाभी को जोर जोर से चोदने लगा तो भाभी भी आहाआ आहाआ ऊउन्न्ह ऊन्न्ह्म आऊउन्ह ऊम्मंह ऊउन्न्ह आहाआ ऊन्न्म्ह ऊम्न्ह्ह अआहंह करते हुए चुदाई में साथ देने लगी | मैं जोर जोर से भाभी को चोद रहा था और भाभी भी आहाआ आहाआ ऊउन्न्ह ऊन्न्ह्म आऊउन्ह ऊम्मंह ऊउन्न्ह आहाआ ऊन्न्म्ह ऊम्न्ह्ह अआहंह करते हुए चुदाई में साथ दे रही थी | फिर मैंने अपने वीर्य भाभी के मुँह के ऊपर छोड़ दिया |


(0) Likes (0) Dislikes
358 views
Added: Thursday, March 29th, 2018
Added By:
Vote This:        

Your Vote

×
Comments
Sponsors
loading...
Search Site
Share With Us
Random Video
Facebook
Sponsors
loading...
Sponsors
loading...
Sponsors
loading...