Sponsors
loading...
मेरी चूत की प्यास

हैल्लो दोस्तों, कैसे हैं आप सभी ? मेरा नाम शीला है और मैं जालंधर की रहने वाली हूँ | मेरी उम्र ४० साल है और मैं एक विधवा हूँ | मैं दिखने में गोरी हूँ और मेरा फिगर बहुत ही ज्यादा सेक्सी है | मेरा फिगर ३४-३०-३६ है और आप लोग इससे अंदाजा लगा सकते हैं कि मैं गोरे रंग और सेक्सी फिगर के साथ इस उम्र में भी कैसी दिखती हूँ | मेरी एक बेटी है जो बाहर पढ़ती है | घर पर अकेले रहती हूँ तो कुछ अकेलापन और ऊपर से प्यास, कुल मिलाकर बहुत दुखी हूँ | आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी लिखने जा रही हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं उम्मीद करती हूँ कि आप सभी को मेरी ये कहानी पसंद आयगी और मेरी कहानी पढ़ कर आप लोगो को मजा भी आयगा | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय ना लेते हुए सीधा अपनी कहानी शुरू करती हूँ |

एक दिन की बात है, मेरे घर का पंखा ख़राब हो रखा था | चूत की गर्मी के साथ मौसम वाली गर्मी, दोनों में मिलकर मेरा बुरा हाल कर दिया | मैंने ऑनलाइन पंखा रिपेयर करने वाला बुक किआ और बैठ गयी | थोड़ी देर बाद दरवाजे को किसी ने नॉक किया तो मैंने पूछा कि कौन है ? तो बाहर से आवाज़ आई कि मैं हूँ कन्नू मुझे आपने पंखा सुधारने के लिए बुक किआ था | तो मैंने दरवाजा खोली तो उसने मुझे नमस्ते किया | देखने से तो वो हेंडसम था और उसे देख कर मेरी उससे चुदवाने की इच्छा भी होने लगी थी और मौका भी था | जब वो काम कर रहा था तो मैं उसे लाइन दे रही थी कि वो मेरी तरफ देखे पर वो मेरी तरफ देख ही नही रहा था तो मैं उससे यहाँ वहां की बात करने लगी | वो भी काम करते हुए मुझसे बात करने लगा | उसके बाद जब उसका काम हो गया तो मैंने उससे पूछा कि कितने पैसे हुए ? वो बोलै-मैडम आपके पास ऑनलाइन बिल आ गया होगा, वहीँ से पेमेंट कर दीजिये | मैं बोली- वो तो कर दिए मैंने, तुम्हारी पेमेंट कितनी है ? वो बोलै- मैं समझा नहीं | मैंने उससे डायरेक्ट कह दिया कि देखो मुझे सेक्स करने की इच्छा हो रही है अगर तुम रेडी हो तो बोल दो अगर नही हो रेडी तो फिर चले जाओ |

ये सुन कर उसकी आँखों में हवस आ गया और उसने मेरे होंठ में अपने होंठ रख दिए और मेरे होंठ को चूसने लगा | मैं भी उसका साथ देते हुए उसके होंठ को चूसने लगी और उसे सहलाने लगी | हम दोनों ने एक दुसरे को 15 मिनट तक किस किये और सहलाये | उसके बाद मैंने उसकी टी-शर्ट को उतार दिया और फिर जमीन पर अपने घुटनों के बल बैठ कर उसके जीन्स को भी उतार दिया | उसके बाद मैंने उसके अंडरवियर को भी उतार दिया और उसके लंड को अपने हाँथ में ले कर हिलाने लगी | फिर मैंने उसके लंड को अपनी जीभ से चाटने लगी तो उसके मुंह से आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह की सिस्कारिया निकलने लगी | मैं उसके लंड को बहुत प्यार से चाट रही थी और वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मजे ले रहा था | उसके लंड को चाटने के बाद मैंने लंड को अपने मुंह में डाल कर चूसने लगी और वो मेरे सिर पर हाँथ रख लिया | मैं जोर जोर से उसके लंड को आगे पीछे करते हुए चूस रही थी और वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मेरे मुंह को चोदने लगा | उसके बाद उसने मेरे साड़ी को उतार दिया और ब्रा भी खोल कर मेरे दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा दबाते हुए तो मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए उसके सिर पर हाँथ फेरने लगी |

वो जोर जोर से मेरे दूध को मसल मसल कर चूस रहा था और निप्पलस भी होंठ से दबा कर चूसने लगा तो मैं भी आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए उसके लंड को हिलाने लगी | फिर उसने मेरे पेंटी भी उतार कर नंगा कर दिया | फिर उसने मुझे बिस्तर पर लेटा दिया और मेरी टाँगे चौड़ी कर के अपनी जीभ से मेरी चूत को चाटने लगा तो मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मदहोश होने लगी | वो मेरी चूत को चाटते हुए मेरे चूत के दाने को भी होंठ में दबा कर चूसने लगा | मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए उसके सिर को अपनी चूत पर दबाने लगी | उसके बाद उसने मेरी चूत पर लंड रगड़ा और अन्दर डाल दिया और चुदाई चालू कर दिया |

मैं भी आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मदहोश हुए जा रही थी | फिर उसने अपनी चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दिया और जोर जोर से धक्क्के मारते हुए चोदने लगा | मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर साथ देने लगी | फिर उसने मुझे 45 मिनट तक चोदा और अपना वीर्य मेरी चूत के ऊपर ही छोड़ दिया | उसके बाद हम दोनों ने अपने आपको ठीक किया और वो चला गया |

अब जब भी मेरी चूत में खलबली मचती है तो मैं उसे बुला लेती हूँ और अपनी प्यास शांत कर लेती हूँ | दोस्तों, ये थी मेरी कहानी | मैं उम्मीद करती हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी पसंद आई होगी |


(0) Likes (0) Dislikes
41 views
Added: Sunday, April 15th, 2018
Added By:
Vote This:        

Your Vote

×
Comments
Sponsors
loading...
Search Site
Share With Us
Random Video
Facebook
Sponsors
loading...
Our Pages
Sponsors
loading...
Sponsors
loading...